NIOS in Hindi | एनआईओएस क्या है? एडमिशन कैसे ले? पूरी जानकारी

NIOS in Hindi: हेल्लो दोस्तों 🙏 स्वागत है आपका इस आर्टिकल में, दोस्तों आज हम लोग बात करने वाले हैं NIOS in Hindi यानी एनआईओएस क्या है? के बारे में, साथ ही हम लोग NIOS Details in Hindi के बारे में वह सारी जानकारी जानने वाले हैं। जिसके लिए आप इस आर्टिकल पर आए हैं।

दोस्तों NIOS से जुड़ी कोई भी जानकारी जानने से पहले हम लोग यह जानकारी प्राप्त कर लेते हैं कि NIOS Ka Full Form Kya Hai? 

एनआईओएस का फूल फॉर्म क्या है? | NIOS Full Form in Hindi

एनआईओएस का फुल फॉर्म क्या है? की बात करें तो NIOS Ka Full Form “National Institute of Open Schooling” होता है। जिसे हिंदी में यानी एनआईओएस फुल फॉर्म इन हिंदी की बात करे तो एनआईओएस का अर्थ हिंदी में (NIOS Meaning in Hindi) में “राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान” होता है।

चलिए अब हमलोग जानते है की एनआईओएस क्या होता है?

एनआईओएस क्या है? | What is NIOS in Hindi

NIOS kya hai? की बात करे तो NIOS का पूरा नाम National Institute of Open Schooling जिसका हिंदी में अर्थ राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान है। जैसा की इसके नाम से ही पता चल रहा है की एनआईओएस एक मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान है। अब आपके मन में यह सवाल आ रहा होगा की ये मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान क्या होता है की तो आपको बता दे की मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान, शिक्षा का एक ऐसा संस्थान होता है जिसमे क्लास रूम पढाई अनिवार्य नहीं होता है।

जैसे Normal School में प्रतिदिन विधार्थियों को क्लास करना पढता है और उन्हें attendance बनाना पढता है क्यूंकि बहुत सारे स्कूल में 75% attendance नहीं होने पे परीक्षा देने नहीं दिया जाता है पर NIOS में ऐसा कुछ नहीं है आप बिना कोई attendance के भी परीक्षा दे सकते है और अपनी पढाई पूरी कर सकते है।

तो दोस्तों एनआईओएस एक बहुत ही प्रसिद्ध बोर्ड है। अगर आप अपने दैनिक जीवन में इतने व्यस्त हैं कि आपके पास पढ़ने का भी समय नहीं है। तो आप एनआईओएस की मदद से आसानी से हाई स्कूल और हॉयर सेकंडरी परीक्षा को पास कर सकते है। इसका दूसरा नाम ओपन स्कूल भी है। लेकिन अधिकतर लोग एनआईओएस के बारे में कुछ नहीं जानते हैं। इसलिए आज हम एनआईओएस के बारे में विस्तार से जानेंगे।

दोस्तों जैसा कि हम लोग आजकल देख रहे हैं की एनआईओएस की पढाई की और छात्रो का रुझान काफी ज्यादा देखने को मिल रही है। आजकल बहुत सारे स्टूडेंट्स इस पर जोर दे रहे हैं की वह एनआईओएस से अपनी पढाई करे। 

दोस्तों अगर आप NIOS से अपना पढाई करना चाहते है तो आपके लिए एनआईओएस के बारे में अच्छी तरह से जानकारी प्राप्त होना काफी जरुरी है ताकि आगे जाकर आपको अपने Decision पे कोई पछतावा ना हो। दोस्तों क्या आपको पता है की 

  • एनआईओएस के उद्देश्य क्या है?
  • एनआईओएस के फायदे क्या है?
  • एनआईओएस के नुकसान क्या है?
  • एनआईओएस की मान्यता कितनी है?
  • एनआईओएस से कौन सा कोर्स कर सकते है?
  • एनआईओएस के लिए क्वालिफिकेशन क्या चाहिए?
  • एनआईओएस में एडमिशन कैसे ले?
  • एनआईओएस की फीस कितनी होती है?

दोस्तों अगर आपको एनआईओएस इन हिंदी से जुड़ी ये सारी जानकारियों के बारे में नहीं पता है तो आप बिल्कुल भी चिंता ना करें क्योंकि आज हम लोग What is NIOS in Hindi से जुड़े यह सारे प्रश्नों के बारे में जानने वाले हैं और मुझे पूरा विश्वास है कि NIOS Kya Hota Hai? का यह आर्टिकल पूरा पढ़ने के बाद आपके मन में NIOS Information in Hindi से जुड़े जितने भी सवाल है सारे सवालों के जवाब आपको इस आर्टिकल में मिल जाएगा। 

तो चलिए अब हमलोग NIOS के बारे में पूरी जानकारी जानते है

एनआईओएस के उद्देश्य क्या है? 

एनआईओएस की स्थापना 3 नवंबर 1989 को भारत सरकार के द्वारा की गई थी। एनआईओएस का मुख्य उद्देश्य है कि समाज के सभी वर्गो को शिक्षा प्रदान करना यानी समाज का कोई भी वर्ग के लोग शिक्षा के अधिकार से वंचित ना रहे।

जैसा की हमलोगों ने जाना की Normal Schooling में प्रतिदिन क्लास करना पढता है ऐसे में बहुत सारे विधार्थि ऐसे भी है जो किसी करणवश प्रतिदिन क्लास नहीं कर सकते। ऐसे में Normal School में पढाई करना उनके लिए दिक्कत की बात है।

विधार्थियों के इसी दिक्कत का हल के लिए NIOS का concept लाया गया है ताकि जो विधार्थि किसी करणवश प्रतिदिन क्लास नहीं करना चाहते वह अपनी पढाई NIOS के द्वारा पूरी कर सके और उनका पढाई ना छूटे।

आपको बता दे की एनआईओएस के अंतर्गत बहुत सारे कोर्स करवाई जाती है जिनमें से हाई स्कूल, उच्चतर माध्यमिक, व्यावसायिक पाठ्यक्रम‌ आदि बहुत सारे कोर्स हैं जिनमें से डीएलएड सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है। एनआईओएस को ओपन स्कूल के नाम से भी जाना जाता है। इसे मानव विकास मंत्रालय द्वारा ग्रामीण और ‌ पिछले वर्ग के छात्रों को शिक्षा प्रदान करने के लिए शुरू किया गया था ताकि वे बिना स्कुल जाए घर बैठे ही अपने पढ़ाई पूरी कर सके। एनआईओएस का बोर्ड भी सीबीएसई ओर आईसीएसई तथा राज्य बोर्ड की तरह ही है।‌ एनआईओएस का मुख्यालय नोएडा में है। 

एनआईओएस का क्या फायदे है? | Benefits of NIOS in Hindi

एनआईओएस से पढाई करने के फायदे की बात करे तो इसमें काफी सारे फायदे है जैसे 

  • एनआईओएस को भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त है।
  • एनआईओएस के अंतर्गत प्रतिदिन स्कूल जाने की आवश्यकता नहीं है। 
  • एनआईओएस से आप किसी भी उम्र में पढाई कर सकते है इसमें पढाई करने के लिए कोई आयु सीमा नहीं है।
  • ग्रामीण क्षेत्रों के छात्रों को भी इससे फायदा होता है।
  • घर बैठे अपनी पढ़ाई को पूरे कर सकते हैं।
  • जो छात्र पढ़ने में कमजोर है वह एक ही साल में बोर्ड परीक्षा या कोई भी परीक्षा को पास कर सकते हैं।
  • यदि आप पढ़ाई छोड़ दिए हैं तो आप दोबारा इससे अपनी पढ़ाई की शुरुआत कर सकते हैं।
  • इसका सिलेबस सीबीएसई के जैसा ही होता है।

एनआईओएस के नुकसान क्या है?

दोस्तों कोई भी चीज़ का कुछ कुछ फायदे होता है तो उसके साथ ही उसका कुछ नुकसान भी होता है अब एनआईओएस के नुक्सान की बात करे तो वह है।

जैसा की हमने जाना की एनआईओएस में क्लास करना जरुरी नहीं होता अब क्लास नहीं करने से विधार्थियों का पढाई के प्रति उतना खास रूचि दिखाई नहीं पढ़ती है और साथ ही वह पढाई में उतना ध्यान नहीं देते है और जिस कारन वे वह नॉलेज नहीं प्राप्त कर पाते है जो उनके प्राप्त करना चाहिए।

पर यदि आप अपने पढाई के प्रति अच्छा रूचि दिखाए तो ये नुकसान आपको नहीं होगा।

एनआईओएस की मान्यता कितनी है?

एनआईओएस की मान्यता को लेकर लोगो में काफी तरह का भ्रम फेला हुआ है बहुत सारे लोगो को ऐसा लगता है की एनआईओएस से पढाई करने का कोई फायदा नहीं है क्यूंकि इसकी कोई वैल्यू नहीं है पर आपको बता दे की ऐसा कुछ नहीं है एनआईओएस को भारत सरकार द्वारा मान्यता दी गई है जिस प्रकार सीबीएसई आईसीएसई और राज्य बोर्ड की मान्यता है ठीक उसी प्रकार एनआईओएस को भी मान्यता दी गई है। किसी भी प्रकार की नौकरी या सरकारी नौकरी में एनआईओएस को मान्यता दी जाती है। यानि यदि कोई अपनी पढाई सीबीएसई से की है और वह जिस जिस सरकारी नौकरी के फॉर्म अप्लाई कर सकता है एक एनआईओएस से पढाई किया हुआ विधार्थी भी वह सभी सरकारी नौकरी के फॉर्म अप्लाई कर सकता है।

एनआईओएस से कौन कौन सा कोर्स कर सकते हैं? | NIOS Course Lists in Hindi

एनआईओएस से आप High School Level, Secondary Level, Senior Secondary Level यानी मेट्रिक स्तर की पढाई, Higher Secondary Level यानी 12वी स्तर की पढाई कर सकते है साथ ही इसके अलावा भी एनआईओएस से आप काफी सारे कोर्स कर सकते हैं। जैसे 

  • House wiring and electrical appliance repairing
  • Motor and transformer rewinding 
  • Radio and tape recorder repairing
  • Cutting and tailoring
  • TV repairing
  • Dress making 
  • Beauty culture
  • Plumbing
  • Refrigeration
  • Air conditioning
  • Certificate and desktop publishing
  • Certificate in yoga
  • Certificate in security service
  • Computer hardware assembly and maintenance 
  • Certificate course in PC hardware and software 
  • Plant protection
  • Water management for crop production
  • Oyster mushroom production technology
  • Poultry farming
  • Word processing
  • Furniture and cabinet making
  • Electroplating
  • Play centre management
  • Hotel front office operations
  • Diploma in radiography
  • Diploma in basic rural technology
  • Certificate in care of elderly
  • Secretarial practice
  • Library clerk course

दोस्तों अगर आपको Higher Education यानी ग्रेजुएशन या उससे आगे की पढाई मुक्त विश्वविधालय से करनी है तो आप वह IGNOU से कर सकते है। दोस्तों अगर आपको IGNOU के बारे में जानना है की इग्नू क्या है? और इग्नू से पढाई कैसे करे तो नीचे IGNOU Kya Hai? पे Click करके इग्नू के बारे पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते है।

IGNOU Kya Hai?

एनआईओएस में एडमिशन के लिए योग्यता क्या चाहिए? | NIOS Eligibility Criteria in Hindi

जैसा की हमने जाना की एनआईओएस से आप काफी सारे कोर्स कर सकते हैं यानी एनआईओएस में काफी सारे कोर्स है और सभी कोर्स के लिए अलग अलग मापदंड रखा गया है। जैसे 

एनआईओएस Senior Secondary Level की पढाई करने के लिए Secondary exam पास होना चाहिए वही Higher Secondary Level की पढाई करने के लिए Senior Secondary exam पास होना चाहिए।

एनआईओएस में एडमिशन कैसे ले? | NIOS Admission Process in Hindi

एनआईओएस के लिए एडमिशन के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना होता है। इसके लिए कुछ जरूरी कागजात आवश्यक है जो नीचे दिए हुए हैं:-

  • आधार कार्ड/ वोटर कार्ड/ पासपोर्ट आदि।
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • स्थानीय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • सिग्नेचर

एनआईओएस में रजिस्ट्रेशन कैसे करे? | NIOS Registration in Hindi

एनआईओएस का रजिस्ट्रेशन आप इस प्रकार कर सकते है 

  • सबसे पहले एनआईओएस के ऑफिशियल वेबसाइट https://www.nios.ac.in/ पर जाएं।
  • इसके बाद रजिस्टर बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद दिए गए निर्देशों को पढ़ें और प्रोसेस बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आप जिस राज्य में रहते हैं उसका चयन करें।
  •  अब आप अपनी पहचान के लिए जो सबूत देना चाहते हैं उसका चयन करें जैसे आधार कार्ड या वोटर कार्ड आदि।
  • अब आपको अपने पहचान पत्र पर लिखे हुए नंबर को उसमे लिखना होगा जैसे कि आधार नंबर या वोटर नंबर आदि।
  • इसके बाद आपको अपना कोर्स चुनना होगा। अगर आप 10 वीं की परीक्षा देना चाहते हैं तो सीनियर सेकंडरी वाले ऑप्शन को चुने और अगर आप 12 वीं की परीक्षा देना चाहते हैं तो हायर सेकंडरी का ऑप्शन चुने फिर उसे सबमिट कर दें।
  • अब स्क्रीन पर एक फॉर्म आयेगा जिसमें आपसे आपकी पूरा डिटेल जैसे आपका नाम, एड्रेस, कॉन्टैक्ट नंबर आदि भर दीजिए। फिर आगे चलिए।
  • इसके बाद जेनरेट ओटीपी का विकल्प आयेगा ये ओटीपी आपके द्वारा मोबाइल नंबर और ईमेल पर भेज दिया जाएगा आप ओटीपी डाल दें।
  • इसके बाद आपको एड्रेस और सोशल कैटेगरी की जानकारी देना पड़ेगा। 
  • इसके बाद आपको यहां अपने डॉक्यूमेंट जमा करना पड़ता है।
  • अब आप अपने फॉर्म को चेक कर ले की कुछ ग़लत तो नहीं है अब आप सबमिट कर दें।
  • अब आपको ऑनलाइन पेमेंट करना होगा बस आपका फॉर्म कंप्लीट हो गया।

एनआईओएस की फीस कितनी है? | NIOS Fees Details in Hindi

एनआईओएस में यदि आप नामांकन कराते हैं तो आपको फीस भी देनी पड़ेगी। एनआईओएस में हर साल 1500 से 2000 रुपए फीस होता है। इसके अलावा हर सेशन के पहले एग्जाम फीस जमा करनी पड़ती है। हर सब्जेक्ट के लिए 250 रुपए फीस होती है। यानी कि 3000 रुपए पढ़ाई कर सालाना खर्च है। 

एनआईओएस एग्जाम की तैयारी कैसे करे?

तो दोस्तों एनआईओएस एक पढ़ाई का बहुत ही अच्छा स्रोत है।एनआईओएस का एग्जाम अन्य बोर्ड के मुकाबले काफी ईज़ी होता है। अगर आप चाहें तो अपनी मेहनत के दम पर इसे आसानी से पास कर सकते है। लेकिन इसके लिए आपको अच्छी तरह पढ़ाई करने की जरूरत है। अगर आप अच्छे मार्क्स लाना चाहते हैं तो आपको अच्छे से पढ़ाई करने की जरूरत है। एनआईओएस के द्वारा ली जाने वाली एग्जाम के लिए आपको स्कूली शिक्षा नहीं दी जाएगी लेकिन आपको इन टिप्स की मदद से एनआईओएस एग्जाम में अच्छे नंबर ला सकते हैं। अगर आप कोचिंग क्लास करना चाहे तो और भी अच्छी बात है क्योंकि उससे आपका पढ़ाई का माहौल बना रहता है। मार्केट में गाइड बुक्स भी मिलता है आप उसका भी सहारा ले सकते हैं। साथ ही आप प्रीवियस ईयर के क्वेश्चन पेपर का भी प्रेक्टिस करते रहे। आप एनआईओएस के ऑफिशियल वेबसाइट पर एनआईओएस का स्टडी सेंटर भी ढूंढ़ सकते हैं। आप चाहे तो इस एग्जाम को बहुत ही आसानी से पार कर सकते हैं बस मेहनत की जरूरत  है। अगर आप सच में पढ़ाई के प्रति सीरियस है तो आप इस एग्जाम को पास कीजिए पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित करने की कोशिश कीजिए अधिक से अधिक समय पढ़ाई पर दीजिए। अगर आप चाहे तो मेहनत करे तो बहुत ही अच्छा परिणाम ला सकते हैं। कहा जाता है न कर्म ही पूजा है बस यही कहावत यहां भी लागू होती हैं। मेहनत ही सबकुछ है आप चाहे तो इसके बल पर भी मंजिल पा सकते है। आज के दौर में पढ़ाई ही सबकुछ है।

एनआईओएस क्या होता है?

NIOS का पूरा नाम National Institute of Open Schooling जिसका हिंदी में अर्थ राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान है। एनआईओएस एक मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान जिसमे क्लास रूम पढाई अनिवार्य नहीं होता है एनआईओएस से हाई स्कूल, उच्चतर माध्यमिक, व्यावसायिक पाठ्यक्रम‌ आदि की पढाई किया जा सकता है।

एनआईओएस की स्थापना कब हुई है?

एनआईओएस की स्थापना 3 नवंबर 1989 हुई है।

एनआईओएस का मुख्यालय कहा है?

एनआईओएस का मुख्यालय नोएडा में है।

तो दोस्तो यह है NIOS in Hindi की पूरी जानकारी जिसमें हमलोग एनआईओएस क्या है? एडमिशन कैसे ले? के साथ – साथ NIOS के बारे में वह सारी जानकारी के बारे में जाने जिसकी आपको तलाश थी दोस्तो आशा करती हूं कि आप NIOS kya hota hai? से जुड़ी दी गई जानकारी से आप संतुष्ट है और आपके मन में NIOS kya hai? से जुड़े जितने भी सवाल थे सारे सवालों के जवाब मिल गया होगा।

इनके अलावा भी दोस्तो अगर आपके मन में NIOS details in hindi से जुड़ी किसी भी प्रकार का सवाल है तो आप हमें comments करके पूछ सकते है और मै पूरा कोशिश करूंगी की आपके सारे सवालों का जवाब दे सकूं।

दोस्तों,इसी प्रकार के informative articles के लिए हमारे साथ जुड़े रहे!

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद…!!!🙏🙏🙏

Leave a Reply

Copy not allowed ?