NEET Full Form in Hindi | नीट एग्जाम क्या है पूरी जानकारी

NEET Full Form in Hindi: हेल्लो दोस्तों ? स्वागत है आपका इस आर्टिकल में, दोस्तों आज हम लोग बात करने वाले हैं नीट का फुल फॉर्म क्या है? साथ ही हम लोग  NEET details in Hindi के बारे में यानी नीट से जुड़ी सारी जानकारी जानने वाले हैं। जिसके लिए आप इस आर्टिकल पर आए हैं।

तो चलिए नीट से जुड़ी कोई भी जानकारी जानने से पहले हम लोग यह जानकारी प्राप्त कर लेते हैं कि नीट का फुल फॉर्म क्या होता है?

NEET Ka Full Form Kya Hai

नीट का फुल फॉर्म क्या है? की बात करो तो NEET ka full form “National Eligibility cum Entrance Test” होता है। 

NEET Full Form in Hindi

वही नीट फुल फॉर्म इन हिंदी यानी NEET Meaning in Hindi की बात करे तो नीट का फुल फॉर्म हिंदी में “राष्ट्रीय योग्यता और प्रवेश परीक्षा” होता है।

दोस्तों जैसा की अभी हमलोगों ने जाना की NEET Exam Full Form नेशनल एलिगिबिलिटी कम एंट्रेंस एग्जाम होता है। दोस्तों, NEET Full Form in Hindi के अलावा ऐसे भी बहुत सारे NEET Exam से जुड़ी जानकारी है जिसके बारे में जानना आपके लिए बहुत ही जरूरी है क्या आपको पता है कि:-

  • नीट क्या है?
  • नीट करने के क्या फायदे हैं?
  • नीट का एग्जाम कौन-कौन कौन दे सकता है?
  • नीट एग्जाम पैटर्न क्या है?
  • नीट एग्जाम सिलेबस क्या है?
  • नीट एग्जाम के लिए आवेदन कैसे करें?
  • नीट एग्जाम की तैयारी कैसे करें?

दोस्तों अगर आपको NEET Exam से जुड़ी ये सारी जानकारी नहीं पता है तो आप बिल्कुल भी चिंता ना करें क्योंकि आज हम लोग What is NEET in Hindi से जुड़े यह सारे प्रश्नों के बारे में जानने वाले हैं और मुझे पूरा विश्वास है कि NEET Exam Kya Hota Hai? का यह आर्टिकल पूरा पढ़ने के बाद आपके मन में NEET information in Hindi से जुड़े जितने भी सवाल है सारे सवालों के जवाब आपको इस आर्टिकल में मिल जाएगा।

दोस्तों जैसा कि हम लोग आजकल देख रहे हैं की डॉक्टर की पढाई की और छात्रो का रुझान काफी ज्यादा देखने को मिल रही है।आजकल बहुत सारे स्टूडेंट्स इस पर जोर दे रहे हैं की वह डॉक्टर की पढाई कर सके। और डॉक्टर की पढाई करने के लिए NEET Exam पास करना काफी जरुरी है।

ऐसे में अगर आप  भी डॉक्टर की पढाई करना चाहते है तो ये आपका एक बहुत ही अच्छा निर्णय है क्यूंकि डॉक्टर एक ऐसा पद है जिसमे पैसा के साथ इज्ज़त बहुत है लोग डॉक्टर को भगवन के सामान मानते है।

डॉक्टर की पढाई करने के लिए आपको सबसे पहले नीट एग्जाम पास करना होगा और इसके लिए नीट के बारे में आपको के पास पूरी जानकारी होना बहुत ही जरुरी है तो चलिए अब हम लोग जानते है की NEET Exam Kya Hai?

NEET Kya Hai? (What is NEET in Hindi)

जो छात्र डॉक्टर की पढाई करना चाहते हैं उनके लिए यह परीक्षा बहुत ही अच्छा है। नीट एक प्रकार का राष्ट्रीय लेबल का टेस्ट होता है जो NTA (National Testing Agency) यानी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के माध्यम से नीट की परीक्षा कराई जाती है एमबीपीएस यानी बैचलर ऑफ मशीन बैचलर ऑफ सर्जरी, बीडीएस बैचलर ऑफ डेंटिस्ट सर्जरी जैसे कोर्सों में एडमिशन कराने के लिए नीट की परीक्षा ली जाती है। 

मेडिकल कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए इस एग्जाम को पास करना आवश्यक है। पूरे भारत देश में एमबीबीएस, बीडीएस और आयुष जैसे प्रोग्राम में एडमिशन इसी परीक्षा के आधार पर होता है। भारत में 2016 के पूर्व इसे एआईपीएमटी यानी ऑल इंडिया प्री मेडिकल टेस्ट के नाम से जाना जाता था लेकिन 2016 के बाद इसका नाम एआईपीएमटी से बदलकर नीट रख दिया गया।

नीट करने के क्या-क्या फायदे हैं? (Benefits of NEET Exam)

नेट करने से आपको अनेक प्रकार के फायदे होते हैं जैसे नीचे दिया हुआ है:-

  • नीट एग्जाम के द्वारा स्टूडेंट्स MBBS, BDS जैसे मेडिकल की पढाई में एडमिशन ले सकते है। 
  • नीट द्वारा छात्र एआईपीएमटी के तरह बीएचयू और एफएमएसी जैसे प्रतिष्ठित मेडिकल कॉलेज में एडमिशन ले सकते हैं। नीट का आयोजन भी सीबीएसई ही करता है। इसके द्वारा देश के 15% मेडिकल और डेंटल कॉलेजों की सीटें ऑल इंडिया कोटे के अंतर्गत भरी जाती है।
  • पहले मेडिकल कॉलेज और राज्य अपने स्तर पर अलग-अलग मेडिकल कॉलेज का आयोजन करते थे। नीट के आने से अब देश में केवल एक ही मेडिकल परीक्षा होगी। छात्रों को अब एक ही मेडिकल परीक्षा देनी होगी और एक ही मेडिकल परीक्षा की तैयारी भी करनी होगी। इससे केवल ना उनका समय की बचत होगी। बल्कि दूसरे मेडिकल परीक्षाओं होने वाले खर्चे भी बचेंगे।
  • नीट में प्राप्तांक के आधार पर छात्र अपने राज्य के मेडिकल कॉलेजों में भी एडमिशन ले सकते हैं।
  • नीट के द्वारा प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों के एडमिशन की प्रक्रिया में पारदर्शिता आएगी। अब नीट मेरिट लिस्ट के आधार पर छात्र निजी मेडिकल कॉलेजों की सीटें पर आसानी से दावा कर सकते हैं। पहले इन कॉलेजों के एडमिशन में पारदर्शिता का घोर अभाव था।
  • छात्र अपने नीट के रिजल्ट के आधार पर अलग-अलग राज्यों में काउंसलिंग के लिए फॉर्म भर सकते हैं। इसके लिए अलग से कोई परीक्षा देने की जरूरत नहीं होगी।
  • नीट की परीक्षा अंग्रेजी और हिंदी के अलावा क्षेत्रीय भाषाओ में भी कराई जाती है इसमें 10 भाषाएँ शामिल है

नीट का एग्जाम कौन कौन दे सकता है? (NEET Exam Eligibility in Hindi)

  • नीट की परीक्षा के लिए छात्र का किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं पास होना जरूरी है।
  • छात्रों का कम से कम 12वीं की परीक्षा में 50% अंक होना जरूरी है।
  • विकलांग आवेदकों का 12वीं में 45% अंक होना आवश्यक है।
  • उम्मीदवार की न्यूनतम आयु 17 वर्ष और अधिकतम आयु 25 वर्ष के बीच होना चाहिए है। साथ ही इसमें OBC, SC/ST Candidates को आयु सिक=सीमा में छुट भी दिया जाता है।
  • छात्र का 12वीं में भौतिकी विज्ञान, रसायन विज्ञान गणित या फिर जीव विज्ञान और अंग्रेजी सभी में 50% अंक होना जरूरी है।

नीट एग्जाम पैटर्न क्या है? (NEET Exam Pattern in Hindi)

नीट एग्जाम में भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, वनस्पति विज्ञान, प्राणी विज्ञान से कुल 180 प्रश्न पूछे जाते है जिसमे कुल 720 अंक होते है और इन प्रश्नों के जवाब के लिए कुल 180 मिनट यानि 3 घंटो का समय दिया जाता है। आपको बता दे की इसमें नेगेटिव मार्किंग भी होती है एक गलत उत्तर पे आपके सही उत्तर के अंक में से एक अंक काट लिया जाएगा।

विषय (subject)प्रश्न संख्या (number of question)अंक (marks)
भौतिक विज्ञान45180
रसायन विज्ञान45180
वनस्पति विज्ञान45180
प्राणी विज्ञान45180

कुल अंक (full marks)
180720

नीट एग्जाम सिलेबस क्या है? (NEET Exam Syllabus in Hindi)

नीट की परीक्षा में भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान तथा जीव विज्ञान से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। यह तीन भागों में पेपर आता है:-

  1. भौतिक विज्ञान में 45 प्रश्न पूछे जाते हैं।
  2. रसायन विज्ञान में 45 प्रश्न पूछे जाते हैं।
  3. वनस्पति और प्राणी विज्ञान में भी अलग-अलग 45 प्रश्न पूछे जाते हैं।

यह परीक्षा कुल 720 अंकों की होती है। प्रश्न पत्र को हल करने के लिए 3 घंटे का समय दिया जाता है।

नीट एग्जाम के लिए आवेदन कैसे करें?

  • प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन प्रश्न पत्र केवल ऑनलाइन माध्यम से ही जमा किए जा सकते हैं।
  • आवेदन करने वाले आधिकारिक वेबसाइट https://nta.ac.in/ पर जाकर परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं।

आवेदन कैसे करें:-

  • सबसे पहले नीट परीक्षा की वेबसाइट पर जाएं।
  • होम के पेज पर दिए गए ऑनलाइन अप्लाई लिंक पर क्लिक करें।
  • आवेदन पत्र के चार चरण दिए गए हैं, पहले में पंजीकरण, दूसरे में हस्ताक्षर, तीसरे में आवेदन शुल्क और आखिरी चरण में डाउनलोड करके प्रिंटआउट निकाल सकते हैं।

आवेदन शुल्क:- 

आवेदक वर्ग (candidates category)आवेदन शुल्क (Application fee)
सामान्य और ओबीसी1400 रुपए
एससी/एसटी/पीएच750 रूपए

आवश्यक सूचना:-

  • नीट के परीक्षा के लिए आधार कार्ड नंबर अनिवार्य है।
  • आवेदन पत्र शुल्क नेट बैंकिंग डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड आदि जमा कर सकते हैं।
  • प्रश्न पत्र सभी भाषाओं में एक जैसा होगा।
  • ओपन स्कूल भी नेट के परीक्षा के लिए आवेदन जमा कर सकते हैं।

नीट एग्जाम की तैयारी कैसे करें?

दोस्तों आप जानते ही होंगे कि कोई भी परीक्षा की तैयारी के लिए हमें बहुत ज्यादा मेहनत करनी होती है इसलिए आपको सबसे पहले पिछले वर्ष के टॉपर्स के इंटरव्यू को देखना चाहिए, उनके द्वारा दी गई राय आपको बहुत ज्यादा लाभ पहुंचा सकती है। मॉक टेस्ट का रिवीजन करते रहें। 

एनसीईआरटी बुक को पूरी गहराई से पढ़ने की कोशिश करें। नेट के सैंपल पेपर को पूरे अच्छे से पढ़ें। अगर आप एनसीईआरटी बुक को पूरे ध्यान से पढ़ जाते हैं तो आप जरूर नीट के एग्जाम में सफलता प्राप्त करेंगे।

तो दोस्तो यह है NEET की पूरी जानकारी जिसमें हमलोग नीट फूल फॉर्म इन हिंदी के साथ – साथ NEET के बारे में वह सारी जानकारी के बारे में जाने जिसकी आपको तलाश थी दोस्तो आशा करती हूं कि आप NEET से जुड़ी दी गई जानकारी से आप संतुष्ट है और आपके मन में NEET से जुड़े जितने भी सवाल थे सारे सवालों के जवाब मिल गया होगा।

नीट का फुल फॉर्म क्या है?

नीट का फुल फॉर्म “National Eligibility cum Entrance Test” होता है।

नीट क्या है?

नीट एक प्रकार का राष्ट्रीय लेबल का टेस्ट होता है जो NTA (National Testing Agency) यानी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के माध्यम से नीट की परीक्षा कराई जाती है एमबीपीएस यानी बैचलर ऑफ मशीन बैचलर ऑफ सर्जरी, बीडीएस बैचलर ऑफ डेंटिस्ट सर्जरी जैसे कोर्सों में एडमिशन कराने के लिए नीट की परीक्षा ली जाती है।

नीट परीक्षा में कितने प्रश्न पूछे जाते है?

नीट परीक्षा में कुल 180 प्रश्न पूछे जाते है।

नीट परीक्षा में कितने अंक होते है?

नीट परीक्षा में कुल 720 अंक होते है।

नीट परीक्षा में समय अवधी कितनी होती है?

नीट परीक्षा में समय अवधी 180 मिनट यानी 3 घंटा होती है।

नीट एग्जाम कितनी बार दे सकते है?

नीट एग्जाम देने में किसी प्रकार का पावंदी नहीं है यदि कोई छात्र नीट परीक्षा के लिए पात्र है तो वह अपनी इच्छा अनुसार जितना बार चाहे उतनी बार नीट एग्जाम दे सकते है।

इनके अलावा भी दोस्तो अगर आपके मन में NEET से जुड़ी किसी भी प्रकार का सवाल है तो आप हमें comments करके पूछ सकते है और मै पूरा कोशिश करूंगी की आपके सारे सवालों का जवाब दे सकूं।

दोस्तों,इसी प्रकार के informative articles के लिए हमारे साथ जुड़े रहे!

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद…!!!???

Leave a Reply

Copy not allowed ?