Distance Education in Hindi | डिस्टेंस एजुकेशन क्या है?

Distance Education in Hindi: हेल्लो दोस्तों 🙏 स्वागत है आपका इस आर्टिकल में, दोस्तों आज हम लोग बात करने वाले हैं डिस्टेंस एजुकेशन इन हिंदी यानी Distance Education Kya Hai? के बारे में 

तो चलिए Distance Education से जुड़ी कोई भी जानकारी जानने से पहले हम लोग यह जानकारी प्राप्त कर लेते हैं कि आखिर ये Distance Education Hota Kya Hai?

Table of Contents (विषयसूची)

डिस्टेंस एजुकेशन क्या है? (What is Distance Education in Hindi)

Distance Education Kya Hai?: Distance Education, Education की वह प्रणाली यानी System है जिसमे प्रतिदिन क्लास करना यानी Daily Class में Present होना जरुरी नहीं होता।

Distance Education, Regular Education जो हमारे स्कूल कॉलेज में पढ़ाया जाता है उसी तरह Distance Education भी होता है बस Regular Education और Distance Education में अगर कुछ अंतर है तो वह यह है की Regular Education System में आपको क्लास करना अनिवार्य होता है जबकि Distance Education System में आपको क्लास करना अनिवार्य नहीं होता है। और यही कारण है की Distance Education को मुक्त शिक्षा भी कहा जाता है। ऐसे डिस्टेंस एजुकेशन का हिंदी में अर्थ (distance education meaning in hindi) दूरस्थ शिक्षा होता है।

डिस्टेंस एजुकेशन सिस्टम में में आपको क्लास करना अनिवार्य नहीं होता है इसका मतलब यह नहीं है की इसमें क्लास होता ही नहीं है, क्लास इसमें भी होता है ज्यादातर Distance Education Courses में रविवार को क्लास होती है पर इसमें क्लास Attend करना है की नहीं ये आपके ऊपर निर्भर करता है ऐसा नहीं की यदि आप क्लास नहीं करेंगे तो आपको परीक्षा देने नहीं दिया जाएगा।

यानी यदि आप पढाई करना चाहते है पर कही जॉब करने या कोई अन्य करणवश आपके लिए daily क्लास करना मुस्किल है तो आप डिस्टेंस एजुकेशन के द्वारा बिना daily क्लास किए अपनी पढाई जारी रख सकते है।

पर दोस्तों कोई भी चीज करने से पहले हमे उसके बारे में पूरी अच्छी तरह जानकारी प्राप्त कर लेना चाहिए ताकि बाद में हमे अपने निर्णय पे पछताना ना पड़े। क्या आपको पता है की 

  • डिस्टेंस एजुकेशन की शुरुवात कब हुई?
  • डिस्टेंस एजुकेशन की शुरुआत क्यों हुई?
  • डिस्टेंस एजुकेशन के फायदे क्या हैं?
  • डिस्टेंस एजुकेशन के नुकसान क्या है?
  • डिस्टेंस एजुकेशन की मान्यता कितनी है?
  • डिस्टेंस एजुकेशन कितने प्रकार के होते हैं?
  • डिस्टेंस एजुकेशन के अन्तर्गत कौन कौन से कोर्स है?
  • डिस्टेंस एजुकेशन में एडमिशन कैसे ले?
  • भारत में डिस्टेंस एजुकेशन के बेस्ट कॉलेज कौन सी है?
  • डिस्टेंस एजुकेशन की फीस कितनी होती है?

दोस्तों अगर आपको Distance Education से जुड़ी ये सारी जानकारियों के बारे में पता नहीं है तो आप बिल्कुल भी चिंता ना करें क्योंकि आज हम लोग Distance Education Information in Hindi से जुड़े यह सारे प्रश्नों के बारे में जानने वाले हैं और मुझे पूरा विश्वास है कि Distance Education Kya Hota Hai? का यह आर्टिकल पूरा पढ़ने के बाद आपके मन में Distance Education Details in Hindi से जुड़े जितने भी सवाल है सारे सवालों के जवाब आपको इस आर्टिकल में मिल जाएगा।

दोस्तों आपको बता दे की Distance Education को Distance Learning भी कहा जाता है तो अगर आप Distance Learning Kya Hai या Distance Learning in Hindi Search कर रहे हो तो इसका मतलब भी यही है और आपको ये आर्टिकल पूरा अंत तक पढना चाहिए।

डिस्टेंस एजुकेशन की शुरुआत कब हुई?

डिस्टेंस एजुकेशन की शुरुवात कब हुई? की बात करे तो विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने 1956-1960 की अपनी रिपोर्ट में इसके बारे में सुझाव दिया था यानि भारत में डिस्टेंस एजुकेशन की शुरुवात 1960 के आसपास हुई है। भारत में डिस्टेंस एजुकेशन के जनक के रूप में आइजक पिटमैन को जाना जाता हैं।

डिस्टेंस एजुकेशन की शुरुआत क्यों हुई?

भारत में ऐसे बहुत से लोग है जो घर की जिम्मेदारी के कारण कम उम्र में ही रोजगार करने लगते है और जिस कारण उसका पढाई छुट जाता क्यूंकि Regular Education में क्लास करना अनिवार्य होता है और जॉब के साथ क्लास attend करना posible नहीं है जिस कारण बहुत से लोग जाह के भी अपनी पढाई जारी नहीं रख पाते थे और वह शिक्षा से वंचित हो जाता था।

यही समस्या के समाधान के लिए भारत में डिस्टेंस एजुकेशन की शुरुआत हुई है ताकि लोग डिस्टेंस एजुकेशन के द्वारा अपने जॉब के साथ साथ अपनी पढाई भी कर सके और क्लास ना attend करने के कारण उनका पढाई न छूटे।

डिस्टेंस एजुकेशन के फायदे क्या हैं? (Benefits of Distance Education in Hindi)

डिस्टेंस एजुकेशन के सबसे बड़ा फायदा यह है की इसमें क्लास करना अनिवार्य नहीं है। और जिस कारण आप नौकरी करते या कोई अन्य कार्य करते हुए भी पढाई कर सकते है।

डिस्टेंस एजुकेशन में पढाई करने के लिए कोई आयु सीमा नहीं है आप कभी भी अपनी पढाई डिस्टेंस एजुकेशन के द्वारा शुरू कर सकते है। ऐसे तो पढाई करने का कोई उम्र सीमा नहीं है आप जब चाहे कर सकते है पर मान लीजिए आप को कंपनी में जॉब कर रहे है और आपकी उम्र 40 से 45 वर्ष है और कंपनी में Promotion के लिए Graduation माँगा जा रहा और आप Intermediate pass है और अब आप Graduation की पढाई करना चाहते है पर आपके लिए Regular College में 20 से 22 साल उम्र के बच्चो के साथ पढाई करना आसान नहीं होने वाला। ऐसे में डिस्टेंस एजुकेशन आपके लिए काफी फायदेमंद है।

Distance Education में Courses का फीस थोरा कम होता है जैसे यदि आप Regular कोई कॉलेज से MBA का कोर्स करते है तो इसमें आपको कम से कम लगभग 2 लाख से 3 लाख का खर्च आएगा वही यदि आप MBA का कोर्स IGNOU जो की एक Open University यानी Distance Education University है वहा से करते है तो इसमें आप अपनी MBA की पढाई 60 हजार से 80 हजार में पूरा कर सकते है।

डिस्टेंस एजुकेशन में आपका पढाई बीच में कभी नहीं छूटता। जैसे मान लीजिए आप Regular को कॉलेज से पढाई करते है और किसी कारणवस आप कोई दूसरा शहर चले जाते है तो ऐसे में आपका पढाई छुट जाएगा क्यूंकि दूसरा शहर से आके क्लास करना या परीक्षा देना काफी मुस्किल होता है। वही यदि आप IGNOU या कोई और Open University से करते है तो आपकी पढाई नहीं छूटता है क्यूंकि IGNOU का Education Center लगभग भारत के हर शहर में है और आप अपनी बाकि की पढाई वही से कर सकते है एग्जाम वगेरा वही से दे सकते है।

दोस्तों अगर आपको जानना है की IGNOU क्या है?, IGNOU के फायदे क्या है?, IGNOU में Admission कैसे ले?, IGNOU की fees कितनी है? तो आप नीचे IGNOU Details in Hindi पे Click करके IGNOU के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते है। 

IGNOU Details in Hindi

डिस्टेंस एजुकेशन के नुकसान क्या है?

Distance Education में क्लास ना करने के कारण पढाई का माहोल नहीं बन पाता है जिस कारन ये थोरा Boring लगता है। और समय ना होने के कारण आप कोई tuition भी नहीं ले पते है जिस कारण आपको सारा कुछ अपने दम पर करना पड़ता है और जिस कारण ये थोरा Tough यानि मुस्किल भी लगता है। 

Distance Education में पढाई ज्यादातर लोग डिग्री लेने के लिए करते है जिस कारण वह Knowledge प्राप्त करने के बजाय सिर्फ एग्जाम पास करने के लिए पढ़ते है और ऐसे में उनके पास अपने कोर्स से जुड़ी बहुत कम जानकारी होती है।

आये दिन डिस्टेंस एजुकेशन के क्षेत्र में काफी धोखाधड़ी यानि Fraud सुनने को मिलता है। बहुत से Institute Distance Education Course के नाम पे Students से पैसा ले के भाग जाते है। इसीलिए आप जिस भी Institute या College से डिस्टेंस एजुकेशन कोर्स करने का सोच रहे है उसके बारे में अच्छी तरह से जानकारी प्राप्त कर ले फिर जाके Admission ले।

कुछ कुछ Distance Education Courses में Hidden Fees शामिल होते है जैसे books का fees या अगर कोई Computers Related Course है तो Laptop का Fees शामिल होते है और जिस कारन इसका Total fees काफी ज्यादा हो जाते है। पर आप चाहे तो ये books या Laptop साथ में नहीं भी ले सकते है। 

डिस्टेंस एजुकेशन की मान्यता कितनी है?

डिस्टेंस एजुकेशन की मान्यता की बात करे तो कई बार लोगो को ये गलतफेमी है की डिस्टेंस एजुकेशन की मान्यता रेगुलर एजुकेशन से कम है पर ऐसा कुछ नहीं है डिस्टेंस एजुकेशन की मान्यता भी रेगुलर एजुकेशन के सामान ही है।

अगर हम सरकारी क्षेत्रो यानि जो सरकारी संगठनो में Vacancies निकलती है उसमे बात करे तो जो फॉर्म के लिए एक रेगुलर एजुकेशन वाला स्टूडेंट्स आवेदन कर सकता है वह Vacancies के लिए एक डिस्टेंस एजुकेशन वाला स्टूडेंट्स भी आवेदन कर सकता है। ऐसा कही नहीं लिखा होता की इस फॉर्म को डिस्टेंस एजुकेशन वाला स्टूडेंट्स आवेदन नहीं कर सकता।

डिस्टेंस एजुकेशन कितने प्रकार के होते हैं?

डिस्टेंस एजुकेशन के अन्तर्गत कौन कौन से कोर्स है?

डिस्टेंस एजुकेशन के अन्तर्गत कोर्स की बात करे तो इसमें आप 

  • Bachelor’s Degree
  • Master’s Degree
  • Doctoral Degree
  • M.Phil Programme
  • Diploma
  • PG Diploma
  • PG and Advance Diploma
  • PG and Advance Certificate
  • Certificate
  • Non-Credit Programmes
  • Online Programmes

जैसे Courses आप डिस्टेंस एजुकेशन के द्वारा कर सकते है। 

कुछ लोकप्रिय डिस्टेंस कोर्सेस ( Some Popular Distance Education Courses list

  • Master of business administration (MBA)
  • Human resource management
  • Bachelor of Computer Applications (BCA)
  • Bachelor of education (B.Ed)
  • Bachelor of Law (LL.B. / B.L)
  • Hospitality management studies
  • Bachelor of Business Administration
  • Bachelor of Journalism and Mass Communication
  • Master of Science in Applied Psychology
  • Master of Commerce (M.Com)

डिस्टेंस एजुकेशन में एडमिशन कैसे ले?

डिस्टेंस एजुकेशन में डिस्टेंस कोर्स के लिए एडमिशन ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यम से ले सकते है। आज कल लगभग सभी Institute या College का Admission Process Online हो गया है आप अपने मनपसंद Institute या College में अपने पसंद का डिस्टेंस कोर्स में एडमिशन के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है साथ ही आप Institute या College के Study Center में जाकर भी डिस्टेंस कोर्स में एडमिशन ले सकते है।

भारत में डिस्टेंस एजुकेशन के बेस्ट कॉलेज कौन सी है? (Best Institute for Distance Education)

  • Indira Gandhi National Open University
  • Sikkim Manipal University
  • Dr BR Ambedkar Open University (BRAOU)
  • Netaji Subhas Open University
  • Symbiosis Centre for Distance Learning
  • IMT Distance and Open Learning Institute
  • Delhi University
  • Madras University

डिस्टेंस एजुकेशन की फीस कितनी होती है? (Distance Education Fees Details in Hindi)

डिस्टेंस एजुकेशन की फीस की बात करे तो इसमें अलग अलग कॉलेज के अलग अलग कोर्स के लिए अलग अलग फीस होती है।

पर एक औसत फीस की बात करे तो अगर आप Bachelor’s Degree जैसे BBA, BBC, BHM, B.SC डिस्टेंस कोर्स के द्वारा करते है तो इसमें आपको 40 हजार से 60 हजार फीस में खर्च हो सकते है।

वही यदि आप Master’s Degree जैसे MBA, M.SC, MCA डिस्टेंस कोर्स के द्वारा करते है तो इसमें आपको 60 हजार से 80 हजार फीस में खर्च हो सकते है।

दोस्तों फीस के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप जिस कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते है उसके official website में जाकर जरुर check ले क्यूंकि कोर्स फीस कम ज्यादा होती रहती है। 

तो दोस्तो यह हैं डिस्टेंस एजुकेशन की जानकारी जिसमें हमलोग Distance Education Full Information in Hindi के बारे में वह सारी जानकारी के बारे में जाने जिसकी आपको तलाश थी दोस्तो आशा करती हूं कि आप distance education hindi me से जुड़ी दी गई जानकारी से आप संतुष्ट है और आपके मन में distance education से जुड़े जितने भी सवाल थे सारे सवालों के जवाब मिल गया होगा।

डिस्टेंस एजुकेशन क्या है?

डिस्टेंस एजुकेशन, Education की वह प्रणाली यानी System है जिसमे प्रतिदिन क्लास करना यानी Daily Class में Present होना जरुरी नहीं होता।

डिस्टेंस एजुकेशन के फायदे क्या है?

डिस्टेंस एजुकेशन के सबसे बड़ा फायदा यह है की इसमें क्लास करना अनिवार्य नहीं है। और जिस कारण आप नौकरी करते या कोई अन्य कार्य करते हुए भी पढाई कर सकते है।

डिस्टेंस एजुकेशन के जनक कौन है?

डिस्टेंस एजुकेशन के जनक आइजक पिटमैन को जाना जाता हैं।

इनके अलावा भी दोस्तो अगर आपके मन में distance education से जुड़ी किसी भी प्रकार का सवाल है तो आप हमें comment करके पूछ सकते है और मै पूरा कोशिश करूंगी की आपके सारे सवालों का जवाब दे सकूं।

दोस्तों, इसी प्रकार के informative articles के लिए हमारे साथ जुड़े रहे!

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद…!!!🙏🙏🙏

Leave a Reply

Copy not allowed ?