B.Ed Kya Hai? | बीएड कोर्स कैसे करे? पूरी जानकारी हिंदी में

हेल्लो दोस्तों 🙏 स्वागत है आपका इस आर्टिकल में, दोस्तों आज हम लोग बात करने वाले हैं “B.Ed Kya Hai?” साथ ही इस आर्टिकल में हमलोग B.Ed course Details in Hindi के बारे में पूरी details के साथ सारी जानकारी जानने वाले हैं। जिसके लिए आप इस आर्टिकल पर आए हैं।

तो चलिए b ed kya hai? से जुड़ी कोई भी जानकारी जानने से पहले हम लोग यह जानकारी प्राप्त कर लेते हैं कि “B.Ed ka full form kya hai?” 

बीएड का फुल फॉर्म क्या होता है? (B.Ed full form in hindi)

बीएड का फुल फॉर्म क्या है? की बात करें तो b ed ka full form “Bachelor of Education” होता है। वही b ed full form in Hindi यानी b ed meaning in hindi की बात करें तो हिंदी में इसका अर्थ “शिक्षा में स्नातक” होता है।

दोस्तों आज कल teaching field काफी तेजी से विकास कर रही है बढ़ती जनसंख्या के साथ students की जनसंख्या भी बढ़ती जा रही है और आज कल माँ बाप अपने बच्चो के शिक्षा पर पहले से ज्यादा ध्यान दे रहे है और अपने कमाई का ज्यादातर हिस्सा अपने बच्चो के शिक्षा पर खर्च कर रहे है।  

बच्चो के शिक्षा की डिमांड को देखते हुए आज कल बहुत सारे नए नए स्कूल खुल रहे है जिसमे teachers की काफी ज्यादा डिमांड होती है। सरकार भी अब शिक्षा के क्षेत्र में विकास करने के लिए काफी ज्यादा ध्यान दे रहे है सरकार अपने बजट का बढ़ा हिस्सा शिक्षा के क्षेत्र में विकास में लगा रहे है जिस कारन नए नए स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी आदि खुल रहे है। जिस कारण शिक्षा के क्षेत्र में काफी सारे रोजगार के अवसर उत्पन्न हो रहे है।

आज कल ऑनलाइन एजुकेशन का डिमांड भी काफी ज्यादा देखने को मिल रहा है आज कल बहुत सारे students अपने एग्जाम की तैयारी ऑनलाइन करना ज्यादा पसंद कर रहे है जिस कारण ऑनलाइन एजुकेशन में भी teachers की डिमांड काफी ज्यादा बढ़ गई है। ऑनलाइन टीचिंग में आप घर बैठे ऑनलाइन पढ़ा के पैसे कमा सकते है।

Teachers की बढ़ती डिमांड को देखते हुए आज कल बहुत सारे लोग टीचिंग के फील्ड में अपना career बनाना चाहते है और वह चाहते है की teaching से related को कोर्स करे। दोस्तों अगर आप भी teaching में अपना career बनाना चाहते है यानी एक teacher बनना चाहते है तो इसके लिए आपको teaching का कोर्स करना होगा।

Teaching में सबसे अच्छा और सबसे famous कोर्स है B.Ed यानी Bachelor of Education, दोस्तों अगर आप B.Ed Course करके teaching में अपना career बनाना चाहते है तो ये आपका एक बहुत ही अच्छा निर्णय है।  

लेकिन दोस्तों कोई भी कोर्स करने से पहले हमे उस कोर्स के बारे में पूरी अच्छी तरह से जानकारी प्राप्त कर लेना चाहिए ताकि आगे जाकर हमे कोई तकलीफ या पछतावा ना हो, इसीलिए दोस्तों आपको भी बीएड कोर्स करने से पहले बीएड कोर्स के बारे में पूरी अच्छी तरह से जानकारी प्राप्त कर लेना चाहिए। जैसे क्या आपको पता है की 

  • बीएड कोर्स क्या है?
  • बीएड कोर्स के फायदे क्या है?
  • बीएड कोर्स के लिए योग्यता क्या चाहिए?
  • बीएड कोर्स में क्या पढ़ाया जाता है?
  • बीएड कोर्स कैसे करे?
  • बीएड का एंट्रेंस एग्जाम कैसे होता है?
  • बीएड का सिलेबस क्या है?
  • बीएड कोर्स की फीस कितनी है? 
  • बीएड करने के बाद जॉब कहा मिलेगी?
  • बीएड करने के बाद सैलरी कितनी मिलती है?

दोस्तों अगर आपको B.Ed Course से जुड़ी ये सारी जानकारियों के बारे में नहीं पता है तो आप बिल्कुल भी चिंता ना करें क्योंकि आज हम लोग “What is B. ed course in Hindi” से जुड़े यह सारे प्रश्नों के बारे में जानने वाले हैं और मुझे पूरा विश्वास है कि B. Ed course Kya Hota Hai? का यह आर्टिकल पूरा पढ़ने के बाद आपके मन में B. Ed course Full Information in Hindi से जुड़े जितने भी सवाल है सारे सवालों के जवाब आपको इस आर्टिकल में मिल जाएगा।

तो चलिए अब हमलोग जानते है की ये “B.Ed course kya hai?”

बीएड कोर्स क्या है? (B.Ed course kya hai in hindi)

बीएड यानी बैचलर ऑफ़ एजुकेशन क्या है की बात करे तो जैसे की इसके नाम से ही पता चल रहा है की यह एजुकेशन यानी शिक्षा का एक बैचलर यानी ग्रेजुएशन कोर्स है।

यानी अगर आपको एक शिक्षक बनना है तो आपको b.ed कोर्स करने की आवश्यकता होती है। ऐसे तो अगर आपके पास किसी field में नॉलेज है तो आप इस field में teacher बन के students को पढ़ा सकते हो पर यदि आपको कोई सरकारी क्षेत्र में teacher का नौकरी चाहिए तो आपके पास बीएड डिग्री होना चाहिए।

चलिए अब हमलोग जानते है की “b ed kitne saal ka hota hai?”

बीएड कोर्स कितने साल का होता है?

बीएड कोर्स कितने साल का होता है? की बात करे तो बीएड कोर्स कुल 2 साल का होता है जिसमे कुल 4 सेमेस्टर होते है आपको बता दे की बीएड कोर्स में एग्जाम सेमेस्टर wise लिया जाता है। 

चलिए अब हमलोग जानते है की “b ed course ke fayde kya hai?”

बीएड कोर्स के फायदे क्या है? (Benefits of b ed course in hindi)

बीएड कोर्स करने के फायदे की बात करे तो इसमें आपको काफी सारे फायदे हो सकते है जैसे 

  • बीएड कोर्स करने के बाद आप एक teacher के रूप में बच्चो को पढ़ा सकते है।
  • बीएड कोर्स करने के बाद टेट, सिटीइटी, एलटी आदि की परीक्षा में बैठने के लिए योग्य बन जाते है और ये एग्जाम पास करके आप government teacher बन सकते है। 
  • b.ed कोर्स को करने के बाद आप प्राइवेट स्कूल में एक शिक्षक के रूप में बच्चो को पढ़ा सकते हैं।
  • बीएड कोर्स करने के बाद आप खुद का कोचिंग सेंटर खोल के बच्चो को पढ़ा सकते है। या आप घर में भी बच्चो को tuition class दे सकते है।
  • बीएड कोर्स करने के बाद आप ऑनलाइन टीचिंग भी दे सकते है। 

बीएड कोर्स के लिए योग्यता क्या चाहिए? (B.Ed course eligibility in hindi)

बीएड कोर्स में एडमिशन के लिए योग्यता की बात करे तो 

  • बीएड कोर्स करने के लिए न्यूनतम ग्रेजुएशन पास होना चाहिए। 
  • ग्रेजुएशन आप किसी भी stream यानी science, commerce या arts में से किसी में भी पास किए है तो आप बीएड कोर्स कर सकते है।
  • यदि ग्रेजुएशन आप science/ social science/ humanities/ commerce से पास किए है तो इसमें आपके ग्रेजुएशन में कम से कम 50% मार्क्स होने चाहिए।
  • वही यदि आपने ग्रेजुएशन की पढाई engineering or technology से किए है और आप बीएड कोर्स करना चाहते है तो ऐसे में ग्रेजुएशन में आपके कम से कम 55% मार्क्स होने चाहिए।
  • बीएड कोर्स में एडमिशन के लिए आयु सीमा में कोई लिमिट नहीं है।

बीएड कोर्स में क्या पढ़ाया जाता है?

B. Ed कोर्स में आप को बच्चों को कैसे पढ़ाते हैं, बच्चों को पढ़ने के लिए उत्साह कैसे लाना है। के बारे में पढाया और सिखाया जाता है वही अगर b ed subjects list की बात करें तो बीएड कोर्स में निम्नलिखित विषय पढ़ाए जाते हैं:-

  • शिक्षा संस्कृति और मानव मूल्य
  • शैक्षिक मूल्यांकन और आकलन
  • शैक्षणिक मनोविज्ञान
  • मार्गदर्शन और परामर्श
  • समग्र शिक्षा
  • शिक्षा का दर्शन

चलिए अब हमलोग जानते है की “b ed course kaise kare?” यानी “b ed course me admission kaise le?”

बीएड कोर्स कैसे करे?

बीएड कोर्स कैसे करे? यानी बीएड कोर्स में एडमिशन कैसे ले? की बात करे तो बीएड कोर्स आप दो तरीके से कर सकते है पहला B.Ed entrance exam के द्वारा और दूसरा direct admission के द्वारा 

B.Ed entrance exam के द्वारा बीएड कोर्स में एडमिशन कैसे ले की बात करे तो भारत के सभी राज्यों में बीएड कोर्स में एडमिशन के लिए एक entrance exam यानी प्रवेश परीक्षा लिया जाता है और जो students इस entrance exam में अच्छा मार्क्स लाते है उन्हें उनके मार्क्स के हिसाब से राज्य के सरकारी और कुछ कुछ प्राइवेट कॉलेज में बीएड कोर्स में एडमिशन लिया जाता है।

जैसे झारखण्ड में बीएड कोर्स में एडमिशन के लिए entrance exam JCECEB यानी Jharkhand Combined Entrance Competitive Examination Board के द्वारा लिया जाता है इसी प्रकार अन्य राज्यों में भी b.ed entrance exam लिया जाता है।

वही direct admission के द्वारा बीएड कोर्स में एडमिशन कैसे ले की बात करे तो ऐसे बहुत सारे प्राइवेट कॉलेज है यहाँ पे आपके ग्रेजुएशन के मार्क्स के आधार पे direct admission दिया जाता है आप इन कॉलेज में बीएड कोर्स के लिए डायरेक्ट एडमिशन ले सकते है और अपना बीएड कोर्स की पढाई कर सकते है।

दोस्तों आज कल एक topic पे लोग काफी ज्यादा चर्चा कर रहे है और इसे भविष्य की technology कहा जा रहा है और वह topic है Metaverse जिसे internet का updated version भी कहा जा रहा है जिसके आने के बाद हमारी दुनिया पूरी तरह से बदल जाएगी। दोस्तों अगर आपको मन में भी Metaverse के बारे में जानने का इच्छा है तो आप निचे दिए गए Metaverse Kya Hai? पे Click करके Metaverse के बारे में पूरी विस्तार में जानकारी हिंदी में प्राप्त कर सकते है ।

Metaverse Kya Hai?

बीएड एंट्रेंस एग्जाम पैटर्न कैसा होता है?

बीएड एंट्रेंस एग्जाम पैटर्न की बात करे तो अलग अलग राज्यों में बीएड एंट्रेंस एग्जाम का पैटर्न अलग अलग होता है। 

बीएड एंट्रेंस एग्जाम में Language Proficiency (Hindi & English), Teaching Aptitude और Reasoning Ability जैसे topics से प्रश्न पूछे जाते है।

बीएड एंट्रेंस एग्जाम में 100 से 150 प्रश्न पूछे जाते है जो MCQ (Multiple Choice Question) यानी बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते है जिसमे प्रत्येक प्रश्न के उत्तर के लिए चार विकल्प दिया जाता है जिसमे से सही उत्तर बिकल्प का चयन आपको करना होता है।

बीएड एंट्रेंस एग्जाम में प्रत्येक सही उत्तर पे 1 अंक दिया जाता है वही प्रत्येक गलत उत्तर पे negative marking के रूप में 0.25 अंक काट लिया जाता है।  

बीएड का सिलेबस क्या है? (B Ed syllabus in hindi)

बीएड सिलेबस की बात करे तो इसमें Language Proficiency (Hindi & English), Teaching Aptitude और Reasoning Ability से प्रश्न पूछे जाते है।

  • Language Proficiency (Hindi & English): भाषा की समझ, शब्दों को पुनर्व्यवस्थित करना, रिक्त शब्दों के लिए उपयुक्त शब्दों का चयन करना, वाक्यों के कुछ हिस्सों में त्रुटियों का पता लगाना, अपूर्ण वाक्यों, दिए गए वाक्यांशों के समतुल्य अर्थ का पता लगाना,, अनुक्रमण, समानार्थी शब्द, व्याकरण के लिए उपयुक्त शब्दों का पता लगाना, मुहावरे, प्रस्ताव, काल, निबन्ध लेखन।
  • Teaching Aptitude: शिक्षा, शिक्षण में रुचि, नेतृत्व गुण और समूह प्रबंधन, बच्चों और शिक्षण पेशे के प्रति दृष्टिकोण, भावनात्मक और सामाजिक समायोजन; पारस्परिक और पारस्परिक कौशल और स्कूली शिक्षा से संबंधित समसामयिक मुद्दों की सामान्य जागरूकता।
  • Reasoning Ability: Verbal Non Verbal Reasoning, Number Series, Missing Numbers, Letter Series, Theme Finding, Jumbling, Analogy, Logical Problems, The Odd One Out, Statement, And Conclusion,  Arranging The Statements In A Sequential Form, Syllogism, Establishing Relationships And Numerical Ability etc.

चलिए अब हमलोग जानते है की “b ed ki fees kitni hai?”

बीएड कोर्स की फीस कितनी है?

बीएड कोर्स की फीस बात करे तो यदि आप बीएड कोर्स कोई सरकारी कॉलेज से करते है तो इसमें आपको बहुत ही कम फीस लगेगा इसमें आपकी पूरी पढाई की फीस लगभग 20 से 30 हजार लगेगी। 

वही यदि आप बीएड कोर्स की पढाई कोई प्राइवेट कॉलेज से करते है तो इसमें आपको बीएड कोर्स पूरा करने में कुल 1.5 लाख से 2 लाख तक की खर्चा हो सकती है।

दोस्तों आपको बता दे की सभी राज्यों में SC/ST/OBC students को बीएड कोर्स के दौरान स्कालरशिप भी दिया जाता है जिससे आपके पढाई की खर्च काफी हद तक manage हो जायेंगे।

बीएड करने के बाद जॉब कहा मिलेगी?

बीएड कोर्स करने के बाद आप निम्नलिखित जॉब कर सकते हैं:-

  • निजी स्कूल के शिक्षक
  • सरकारी स्कूल के शिक्षक
  • ट्यूशन के शिक्षक
  • सहायक डिन
  • सामग्री लेखक
  • सलाहकार
  • शिक्षक शोधक

चलिए अब हमलोग जानते है की “B Ed course karne ke bad salary kitni milti hai?”

बीएड करने के बाद सैलरी कितनी मिलती है?

बीएड करने के बाद सैलरी कितनी मिलती है? की बात करे तो यदि आपका नौकरी कोई सरकारी स्कूल या कॉलेज में होती है तो शुरुवाती दिनों में आपके सैलरी कम से कम 35-40 हजार से अधिक ही होंगे।

वही यदि आप बीएड करने के बाद कोई प्राइवेट स्कूल या कॉलेज में पढ़ाते है तो इसमें आपको शुरुवात में 15 से 20 हजार तक की सैलरी मिल सकती है।

वही यदि आप बीएड करने के बाद अपना कोई institute खोल के बच्चो को पढ़ते है तो इसमें आप अपने काबिलियत और नॉलेज से अच्छा खासा पैसे कमा सकते है।

इसके साथ ही आप ऑनलाइन tuition के द्वारा भी काफी अच्छी रकम कमा सकते है।  

बीएड कोर्स क्या है?

बीएड, एजुकेशन यानी शिक्षा का एक बैचलर यानी ग्रेजुएशन कोर्स है। यानी अगर आपको एक शिक्षक बनना है तो आपको b.ed कोर्स करने की आवश्यकता होती है।

बीएड कोर्स कितने साल का होता है?

बीएड कोर्स कुल 2 साल का होता है जिसमे कुल 4 सेमेस्टर होते है।

बीएड कोर्स की फीस कितनी है?

बीएड कोर्स यदि आप कोई सरकारी कॉलेज से करते है तो इसमें आपको बहुत ही कम फीस लगेगा इसमें आपकी पूरी पढाई की फीस लगभग 20 से 30 हजार लगेगी। वही यदि आप बीएड कोर्स की पढाई कोई प्राइवेट कॉलेज से करते है तो इसमें आपको बीएड कोर्स पूरा करने में कुल 1.5 लाख से 2 लाख तक की खर्चा हो सकती है।

तो दोस्तो यह रहा B.Ed Kya Hai? और बीएड कोर्स कैसे करे? पूरी जानकारी हिंदी में जिसमें हमलोग ने “b ed in hindi” के बारे में वह सारी जानकारी के बारे में जाने जिसकी आपको तलाश थी। दोस्तो आशा करती हूं कि आप “b.ed कोर्स क्या होता है?” से जुड़ी दी गई जानकारी से आप संतुष्ट है और आपके मन में बीएड कोर्स डिटेल्स इन हिंदी से जुड़े जितने भी सवाल थे सारे सवालों के जवाब मिल गया होगा।

इनके अलावा भी दोस्तो अगर आपके मन में “b ed course in hindi” से जुड़ी किसी भी प्रकार का सवाल है तो आप हमें comments करके पूछ सकते है और मै पूरा कोशिश करूंगी की आपके सारे सवालों का जवाब दे सकूं।

दोस्तों,इसी प्रकार के informative articles के लिए हमारे साथ जुड़े रहे!

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद…!!!🙏🙏🙏

Leave a Reply

Copy not allowed ?