BMS Course Details in Hindi | बीएमएस कोर्स क्या है? पूरी जानकारी

BMS Course Details in Hindi: हेल्लो दोस्तों 🙏 स्वागत है आपका इस आर्टिकल में, दोस्तों आज हम लोग बात करने वाले हैं BMS Course Details in Hindi के बारे में यानी BMS Kya Hai? से जुड़ी वह सारी जानकारियों के बारे में जानने वाले हैं। जिसके लिए आप इस आर्टिकल पर आए हैं।

तो चलिए BMS Kya Hota Hai? से जुड़ी कोई भी जानकारी जानने से पहले हम लोग यह जानकारी प्राप्त कर लेते हैं कि बीएमएस का फुल फॉर्म क्या होता है?

बीएमएस का फुल फॉर्म क्या है? | BMS Full Form in Hindi

बीएमएस का फुल फॉर्म क्या है? की बात करें तो BMS Ka Full Form “Bachelor of Management Studies” होता है। जिसे हिंदी में यानी बीएमएस फुल फॉर्म इन हिंदी (BMS Meaning in Hindi) “प्रबंधन अध्ययन स्नातक” होता है।

दोस्तों जैसा कि हम लोग आजकल देख रहे हैं की BMS यानी Bachelor of Management Studies की पढाई की और छात्रो का रुझान काफी ज्यादा देखने को मिल रही है। आजकल बहुत सारे स्टूडेंट्स इस पर जोर दे रहे हैं की वह अपने करियर मैनेजमेंट के क्षेत्र में बनाए और BMS Course मैनेजमेंट के क्षेत्र में अपना career बनाने का एक बहुत ही अच्छा कोर्स है 

ऐसे में अगर आप भी अपना करियर मैनेजमेंट के क्षेत्र में बनाना चाहते है और मैनेजमेंट से सम्बंधित कोई कोर्स करना चाहते है तो आपके पास BMS Course एक बहुत ही अच्छा बिकल्प है और अगर आप BMS Course करने का मन बना लिए है तो ये आपका एक बहुत ही अच्छा निर्णय है क्यूंकि आज कल यह काफी तेज़ी से विकास कर रही है और यही कारण है की आजकल BMS Course की डिमांड भी काफी तेज़ी से बढ़ रही है।

लेकिन दोस्तों कोई भी कोर्स करने से पहले हमे उस कोर्स के बारे में पूरी अच्छी तरह से जानकारी प्राप्त कर लेना चाहिए ताकि आगे जाकर हमे कोई तकलीफ या पछतावा ना हो, इसीलिए दोस्तों आपको भी BMS Course करने से पहले बीएमएस कोर्स के बारे में पूरी अच्छी तरह से जानकारी प्राप्त कर लेना चाहिए। 

जैसे दोस्तों क्या आपको पता है की 

  • BMS Course Kya Hai?
  • BMS Course Ke Fayde Kya Hai?
  • BMS Course Me Kya Padhaya Jata Hai?
  • BMS Course Ka Scope Kya Hai?
  • BMS Course Kon Kar Sakta Hai?
  • BMS Course Syllabus Kya Hai?
  • BMS Course Kaise Kare?
  • BMS Course Ki Fees Kitni Hai?
  • BMS Course Me Salary Kitni Milti Hai?

दोस्तों अगर आपको BMS से जुड़ी ये सारी जानकारियों के बारे में नहीं पता है तो आप बिल्कुल भी चिंता ना करें क्योंकि आज हम लोग What is BMS Course in Hindi से जुड़े यह सारे प्रश्नों के बारे में जानने वाले हैं और मुझे पूरा विश्वास है कि BMS Kya Hota Hai? का यह आर्टिकल पूरा पढ़ने के बाद आपके मन में BMS Course Information in Hindi से जुड़े जितने भी सवाल है सारे सवालों के जवाब आपको इस आर्टिकल में मिल जाएगा।

तो चलिए अब हमलोग जानते है की ये BMS Kya Hai? यानी Bachelor of Management Studies Kya Hai? | Bachelor of Management Studies in Hindi

बीएमएस कोर्स क्या है? | What is BMS Course in Hindi

बीएमएस क्या है? की बात करे तो बीएमएस का पूरा नाम Bachelor of Management Studies होता है। यानी बीएमएस मैनेजमेंट का तीन वर्ष का Graduation की डिग्री का एक कोर्स है। जिसमे कोर्स के दौरान स्टूडेंट्स को मैनेजमेंट से जुड़ी चीजो के बारे पढ़ाया जाता है ताकि आगे चलकर वह मैनेजमेंट के क्षेत्र में अपना योगदान दे सके और अपना करियर मैनेजमेंट के क्षेत्र में बना सके। 

बीएमएस कोर्स के फायदे क्या है? | BMS Course Benefits in Hindi

बीएमएस कोर्स के फायदे की बात करे तो इस कोर्स को करने के कई सारे फायदे है जैसे 

  • बीएमएस कोर्स करके आप मैनेजमेंट के क्षेत्र में अपना करियर बना सकते है। 
  •  मैनेजमेंट के क्षेत्र में आजकल बीएमएस कोर्स किए हुए स्टूडेंट्स की काफी ज्यादा डिमांड है यानी इसमें job opportunity काफी ज्यादा है। 
  • बीएमएस कोर्स विद्यार्थियों को एक टीम में काम करने और एक टीम को कैसे नेतृत्व करते है इसके बारे में सिखाता है। 
  • बीएमएस कोर्स करके आप मैनेजमेंट से जुड़ी कोई सर्विस या सेल्स का अपना खुद का busniness शुरू कर सकते है।

बीएमएस कोर्स में क्या पढ़ाया जाता है?

बीएमएस कोर्स मैनेजमेंट का एक डिग्री कोर्स है इसमें आपको मैनेजमेंट से जुड़ी विषयों के बारे में पढ़ाया जाता है जैसे Marketing, Sales, Finance, Business Management, Technology, Economics जैसे आदि मैनेजमेंट से जुड़ी विषयों के बारे में एक स्टूडेंट को बीएमएस कोर्स के दौरान पढ़ाया जाता है। 

बीएमएस कोर्स करियर स्कोप क्या है? | BMS Course Career Scope in Hindi

बीएमएस कोर्स में करियर स्कोप की बात करे तो मैनेजमेंट एक ऐसा क्षेत्र है जिसमे करियर स्कोप काफी अच्छी और आकर्षण होते है। 

  • बीएमएस कोर्स करके आप बड़ी बड़ी सरकारी और प्राइवेट कम्पनी या organisation में कार्यकारी सहायक (Executive Assistant) ,विपणन प्रबंधक (Marketing Manager), बिक्री प्रबंधक (Sales Manager), व्यवसाय विकास प्रबंधक (Business Development Manager), वित्त प्रबंधक (Finance Manager), खाता प्रबंधक (Account Manager), मानव संसाधन प्रबंधक (Human Resources Manager). बाज़ार अनुसंधान विश्लेषक (Market Research Analyst), प्रोजेक्ट मैनेजर (Project Manager), प्रवक्ता सलाहकार (Business Consultant) जैसे ऊँचे पदों पे जॉब कर सकते है।
  • बीएमएस कोर्स करने के बाद आप ग्रेजुएशन लेवल के सभी Competition Exam यानी प्रतियोगिता परीक्षा के लिए तैयारी कर सकते है। 
  • बेचलर ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज डिग्री व्यवसायो का एक बहुत बड़ा क्षेत्र है सभी व्यापार से संबंधित क्षेत्रों में यह कोर्स करियर के लिए बहुत ही अच्छा है। बीएमएस कोर्स करके आप खुद का कोई Startup या Business Start कर सकते है।
  • बीएमएस कोर्स करने के बाद आप बैंकिंग सेक्टर में भी जॉब करके अपना करियर बना सकते है।
  • बीएमएस कोर्स की पढाई पूरा करने के बाद अगर आपको जॉब ना करके आगे पढाई करनी हो तो आप आगे MMS (Masters in Management Studies), MBA (Master of Business Administration) जैसे Master Degree के कोर्स कर सकते है।
  • या अगर आपको बीएमएस कोर्स की पढाई पूरा करने के बाद जॉब के साथ आगे की मास्टर डिग्री की पढाई करनी है तो वह भी आप Distance Education के द्वारा कर सकते है।

दोस्तों अगर आपको जानना है की डिस्टेंस एजुकेशन क्या है?, डिस्टेंस एजुकेशन के फायदे क्या हैं?, डिस्टेंस एजुकेशन की मान्यता कितनी है?, डिस्टेंस एजुकेशन की फीस कितनी होती है?, डिस्टेंस एजुकेशन में एडमिशन कैसे ले? तो आप नीचे Distance Education in Hindi | डिस्टेंस एजुकेशन क्या है? पे Click करके Distance Education के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते है।

Distance Education in Hindi | डिस्टेंस एजुकेशन क्या है?

बीएमएस कोर्स कौन कर सकता है? | BMS Course Eligibility in Hindi

बीएमएस कोर्स कौन कर सकता है? यानी BMS Course Eligibility की बात करे तो 

  • बीएमएस कोर्स करने के लिए न्यूनतम 12वी पास होना चाहिए। 
  • बीएमएस कोर्स करने के लिए अगर हम stream की बात करें तो इसमें किसी भी स्ट्रीम के छात्र अपना स्कोर बना सकते हैं। चाहे वह आर्ट्स स्ट्रीम का हो या साइंस या फिर कॉमर्स सभी विद्यार्थी इस कोर्स को कर सकते हैं। वैसे अगर आप 12वीं कॉमर्स लेकर पढ़े है तो यह अच्छी बात है। क्योंकि बीएमएस कोर्स कॉमर्स का ही बैकग्राउंड का कोर्स है। लेकिन यह जरूरी नहीं है कि आप कॉमर्स स्ट्रीम से ही हो तो ही आप BMS Course में Admission ले सकते है।
  • कुछ कुछ कॉलेज में BMS Course में Admission के लिए 12वी में 50% Marks माँगा जाता है जबकि कुछ कुछ कॉलेज ऐसा भी है जहा 50% से कम Marks वालो को BMS Course में Admission दे दिया जाता है। 

बीएमएस कोर्स का सिलेबस क्या है? | BMS Course Syllabus in Hindi

बीएमएस कोर्स सिलेबस की बात करें तो इसमे Year Wise अलग अलग Subjects को पढ़ाया जाता है। जिसकी पूरी Details आपको नीचे BMS Course Syllabus Year Wise दिया गया है।

BMS 1st Year Syllabus

  • Business Law (बिज़नेस लॉ)
  • Industrial Law (इंडस्ट्रियल लॉ)
  • Introduction to Computers (इंट्रोडक्शन टू कंप्यूटर्स)
  • Foundation of Human Skills (फाउंडेशन ऑफ ह्यूमन स्किल्स)
  • Managerial Economics I (मैनेजरियल इकोनॉमिक्स 1)
  • Introduction of Financial Accounts (इंट्रोडक्शन ऑफ फाइनेंसियल एकाउंट्स)
  • Principles of Management I (प्रिंसिपल्स ऑफ मैनेजमेंट 1)
  • Business Statistics (बिज़नेस स्टेटिस्टिक्स)
  • Business Communication (बिज़नेस कम्युनिकेशन)
  • Business Environment (बिज़नेस एनवायरनमेंट)
  • Business Mathematics (बिज़नेस मैथमेटिक्स)
  • Computer Applications in Business (कंप्यूटर ऍप्लिकेशन्स इन बिज़नेस)

BMS 2nd Year Syllabus

  • Marketing Management (मार्केटिंग मैनेजमेंट)
  • Strategic Management (स्ट्रेटेजिक मैनेजमेंट)
  • Management Accounting (मैनेजमेंट एकाउंटिंग)
  • Cooperatives & Rural Markets (को-ऑपरेटिव्स & रूरल मार्केट्स)
  • Direct & Indirect Taxes (डायरेक्ट & इनडाइरेक्ट टैक्सेज)
  • Environmental Management (एनवायर्नमेंटल मैनेजमेंट)
  • Managerial Economics II (मैनेजमेंट इकोनॉमिक्स 2)
  • Introduction of Cost Accounting (इंट्रोडक्शन ऑफ कॉस्ट एकाउंटिंग)
  • Productivity and Quality Management (प्रोडक्टिविटी एंड क्वालिटी)
  • Business Aspects of Banking & Insurance (बिज़नेस आस्पेक्ट्स ऑफ बैंकिंग & इन्शुरन्स)
  • Export-Import Procedures & Documentation (एक्सपर्ट – इम्पोर्ट प्रोसीजर & डॉक्यूमेंटेशन)
  • Production Management & Materials Management (प्रोडक्शन मैनेजमेंट & मैटेरियल्स मैनेजमेंट)

BMS 3rd Year Syllabus

  • Project Work (प्रोजेक्ट वर्क)
  • Elective I (इलेक्टिव 1)
  • Financial Management (फाइनेंसियल मैनेजमेंट)
  • International Finance (इंटरनेशनल फाइनेंस)
  • Special Studies in Marketing (स्पेशल स्टडीज इन मार्केटिंग)
  • Public Relations Management (पब्लिक रिलेशन्स मैनेजमेंट)
  • International Marketing (इंटरनेशनल मार्केटिंग)
  • Operation Research (आपरेशन रिसर्च)
  • Research Methods in Business (रिसर्च मेथड्स इन बिज़नेस)
  • E-Commerce (E-कॉमर्स)
  • Indian Management Thoughts & Practices (इंडियन मैनेजमेंट थॉट्स  & प्रैक्टिसेज)
  • Human Resource Management (ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट)
  • Special Studies in Finance (स्पेशल स्टडीज इन फाइनेंस)
  • Elements of Logistics Management (एलिमेंट्स ऑफ लोजिस्टिक्स मैनेजमेंट)
  • Service Sector Management (सर्विस सेक्टर मैनेजमेंट)
  • Entrepreneurship & Management of SME (एंट्रेपरेनेउरशिप & मैनेजमेंट ऑफ SME)
  • Business Ethics & Corporate Social Responsibility (बिज़नेस एथिक्स & कॉर्पोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी)

बीएमएस कोर्स कैसे करें? | BMS Course Kaise Kare?

बीएमएस कोर्स को करने के लिए आपको सबसे पहले 12 वीं कक्षा पास करना होगा। आप कोई भी स्ट्रीम से 12वीं पास किए हो आप बीएमएस कोर्स कर सकते हैं। इस कोर्स को करने के लिए आपको बीएमएस एंट्रेंस एग्जाम के लिए फॉर्म भरना होगा। यह फॉर्म आप ऑनलाइन माध्यम से भर सकते हैं। बीएमएस एंट्रेंस एग्जाम कॉलेज, राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित कराया जाता हैं। अब आपको अच्छे अंक से परीक्षा पास करना होगा जिससे आपको अच्छे कॉलेज में बीएमएस कोर्स को करने का मौका मिले। फिर कॉलेज सिलेक्शन के लिए आपको काउंसिलिंग करानी पड़ती है। इसमें आपके द्वारा प्राप्त अंक के अनुसार ही आपको कॉलेज प्रदान किए जाएंगे। इसके अलावा कुछ प्राइवेट कॉलेज में मेरिट लिस्ट यानी 12वीं के अंक के आधार पर एडमिशन लिया जाता है। इसी प्रकार आप के कोर्स में एडमिशन लेकर पढ़ाई कर सकते हैं।

बीएमएस एंट्रेंस एग्जाम के लिए कुछ महत्वपूर्ण एग्जाम 

  • CAT
  • DUJAT
  • MAT
  • NPAT

बीएमएस कोर्स की फीस कितनी होती है? | BMS Course Fees Details in Hindi

BMS Course Fees की बात करे तो अगर आपका एडमिशन कोई सरकारी कॉलेज में होता है तो इसमें आपको हर साल 20 हज़ार से 30 हज़ार की फीस लगेगी।

वही यदि आप कोई प्राइवेट कॉलेज में बीएमएस कोर्स के लिए एडमिशन लेते है तो इसमें आपको हर साल लगभग 50 हज़ार से 80 हज़ार तक की फीस लग सकती है।

आपको बता दे की इस कोर्स में सरकार की और से कुछ कुछ Scholarship भी दिया जाता है अगर आप उस स्कालरशिप के लिए eligible है और तो इसमें आपको 60% से 80% तक की फीस स्कालरशिप से मिल सकती है। 

बीएमएस कोर्स के बाद सैलरी कितनी मिलती हैं? BMS Salary Details in Hindi

बीएमएस की सैलरी की बात करे तो बीएमएस कोर्स के बाद एक व्यक्ति प्रोफेसनली प्रबंधन के क्षेत्र में रोजगार पा सकता है। और इसी के माध्यम से आप मोटी रकम कमा सकते हैं। इसमें सबसे बड़ी बात यह है कि आपके पास कितना क्वालिटी नॉलेज और एक्सप्रिंस है। वैसे बीएमएस कोर्स के बाद आप हर साल दो से तीन लाख का पैकेज शुरुवात में दी जाने वाला जॉब काफी आसानी से पा सकते हैं। इसके बाद आपका एबिलिटी और आपका एक्प्रियांस और डिग्री ही आपके सैलरी को बढ़ा सकता है। 

बीएमएस का फुल फॉर्म क्या है?

बीएमएस का फुल फॉर्म “Bachelor of Management Studies” होता है। जिसे हिंदी में “प्रबंधन अध्ययन स्नातक” कहते है।

बीएमएस क्या है?

बीएमएस का पूरा नाम Bachelor of Management Studies होता है। यानी बीएमएस मैनेजमेंट का तीन वर्ष का Graduation डिग्री का एक कोर्स है।

बीएमएस कोर्स कितने साल का होता है?

बीएमएस कोर्स 3 साल का होता है।

बीएमएस कोर्स कौन कर सकता है?

किसी भी Stream यानी Science, Commerce या Arts से 12वी पास Students बीएमएस कोर्स कर सकता है।

तो दोस्तो यह हैं BMS की पूरी जानकारी जिसमें हमलोग BMS Course Details in Hindi के साथ – साथ BMS Kya Hai? के बारे में वह सारी जानकारी के बारे में जाने जिसकी आपको तलाश थी। दोस्तो आशा करती हूं कि आप बीएमएस कोर्स डिटेल्स इन हिंदी से जुड़ी दी गई जानकारी से आप संतुष्ट है और आपके मन में BMS Course in Hindi से जुड़े जितने भी सवाल थे सारे सवालों के जवाब मिल गया होगा।

इनके अलावा भी दोस्तो अगर आपके मन में BMS Course से जुड़ी किसी भी प्रकार का सवाल है तो आप हमें Comments करके पूछ सकते है और मै पूरा कोशिश करूंगी की आपके सारे सवालों का जवाब दे सकूं।

दोस्तों, इसी प्रकार के informative articles के लिए हमारे साथ जुड़े रहे!

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद…!!!🙏🙏🙏

Leave a Reply

Copy not allowed ?